Currently unavailable.
We don't know when or if this item will be back in stock.
Have one to sell?
Flip to back Flip to front
Listen Playing... Paused   You're listening to a sample of the Audible audio edition.
Learn more.

Follow the Author

Something went wrong. Please try your request again later.


Muskurane Ki Wajah Tum Ho (hindi) (Hindi) Paperback – 1 January 2018

4.0 out of 5 stars 2 ratings

See all formats and editions Hide other formats and editions
Price
New from
Paperback

Product description

About the Author

अर्पित वगेरिया दो रोमांटिक, बेस्टसेलिंग उपन्यासों के लेखक हैं ‘आई स्टिल थिंक अबाउट यू’ और ‘चॉकलेट सॉस-स्मूथ, डार्क, सिनफुल’। अर्पित भारतीय टेलीविजन के लिए भी लिखते हैं और उन्होंने कई फिक्शन और नॉन-फिक्शन टेलीविजन धारावाहिकों और अवार्ड समारोहों के लिए कहानियाँ और संवाद लिखे हैं। मूलतः इंदौर के निवासी अर्पित वगेरिया वर्तमान में मुंबई में रहते हैं। उन्हें सड़क यात्राएँ, गायन, मज़ाक करना और साहसिक खेल पसंद हैं।

From the Publisher

Muskurane Ki Wajah Tum Ho (Hindi) by Arpit Vageria

Muskurane Ki Wajah Tum Ho (Hindi) by Arpit Vageria

‘मुस्कुराने की वजह तुम हो’ प्यार; भाईचारा; भावना; समर्पण; दर्द; और उन गहराइयों की कहानी है; जहाँ तक एक दिल खोए प्यार को पाने के लिए जा सकता है।

  • रनबीर सपने देखता है। उसके पास मोटी तनख्वाह वाली नौकरी है; लेकिन उसकी आकांक्षाएँ ऊँची हैं। वह एक अच्छा प्रेमी है। वह अदा को चाहता है और उसकी खातिर दुनिया के किसी भी आराम को छोड़ सकता है। लेकिन इसके बाद भी; वह खुश नहीं है। उसका वास्तविक पेशा कॉरपोरेट की नौकरी नहीं; बल्कि लेखन है। काफी सोच-विचार के बाद; वह इसमें कूद पड़ता है और अपनी नौकरी को छोड़ पूरी तरह से लिखने के काम में जुट जाता है। वह जब संतुलन बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रहा होता है; तब अदा भी उससे दूरी बढ़ाने लगती है। क्या वह सच में उससे प्यार करती थी; या वह बस एक दिखावा था?
  • इन सारी उलझनों के बीच; पीहू शर्मा उसकी जिंदगी में आती है; जो उसकी अब तक की पहली प्रशंसक; और पूरी तरह से उसके प्यार में डूबी हुई लगती है। अदा के साथ जहाँ रनबीर के संबंध बिगड़ते जाते हैं; वहीं पीहू अपने ऐशो-आराम की जिंदगी को छोड़ उसके साथ रहने चली आती है। क्या यही है वह सच्चा प्यार; जिसका इंतजार रनबीर कर रहा था?
  • आइए; और रनबीर के साथ उस रास्ते पर चलिए; जहाँ ये दुनिया पैसे के लिए मार डालती है और प्यार के लिए जान दे देती है।
  • ‘मुस्कुराने की वजह तुम हो’ प्यार; भाईचारा; भावना; समर्पण; दर्द; और उन गहराइयों की कहानी है; जहाँ तक एक दिल खोए प्यार को पाने के लिए जा सकता है।

*****

Enter your mobile number or email address below and we'll send you a link to download the free Kindle App. Then you can start reading Kindle books on your smartphone, tablet, or computer - no Kindle device required.

  • Apple
    Apple
  • Android
    Android
  • Windows Phone
    Windows Phone

To get the free app, enter mobile phone number.

kcpAppSendButton

Product details

  • Publisher : Prabhat Prakashan; First edition (1 January 2018); Prabhat Prakashan - Delhi
  • Language : Hindi
  • Paperback : 184 pages
  • ISBN-10 : 9352666127
  • ISBN-13 : 978-9352666126
  • Item Weight : 90 g
  • Dimensions : 20 x 14 x 4 cm
  • Importer : Prabhat Prakashan
  • Packer : Prabhat Prakashan - Delhi
  • Generic Name : Books
  • Customer Reviews:
    4.0 out of 5 stars 2 ratings

Customer reviews

4.0 out of 5 stars
4 out of 5
2 global ratings
5 star 0% (0%) 0%
4 star
100%
3 star 0% (0%) 0%
2 star 0% (0%) 0%
1 star 0% (0%) 0%
How are ratings calculated?

Review this product

Share your thoughts with other customers

Top review from India

Reviewed in India on 27 November 2018
Verified Purchase