Included with a Kindle Unlimited membership.
₹ 150.00
  • Inclusive of all taxes
Fulfilled FREE Delivery on orders over ₹ 499.00 . Details
In stock.
Have one to sell?
Flip to back Flip to front
Listen Playing... Paused   You're listening to a sample of the Audible audio edition.
Learn more.

Follow the Author

Something went wrong. Please try your request again later.


SARVOTTAM JEEVAN KA NIRMAN KAREN (PB) (Hindi) Paperback – 1 January 2017

4.1 out of 5 stars 12 ratings

See all formats and editions Hide other formats and editions
Price
New from
Paperback
₹ 150.00
₹ 120.00
Delivery by: Thursday, Nov 26 Details
Fastest delivery: Tomorrow
Order within 16 hrs and 32 mins
Details
No-Contact Delivery

Delivery Associate will place the order on your doorstep and step back to maintain a 2-meter distance.

No customer signatures are required at the time of delivery.

For Pay-on-Delivery orders, we recommend paying using Credit card/Debit card/Netbanking via the pay-link sent via SMS at the time of delivery. To pay by cash, place cash on top of the delivery box and step back.

Amazon Delivered
Amazon directly manages delivery for this product. Order delivery tracking to your doorstep is available.
click to open popover

Save Extra with 3 offers


Frequently bought together

  • SARVOTTAM JEEVAN KA NIRMAN KAREN (PB)
  • +
  • Khud Se Prem Karo (hindi)
  • +
  • Khud Ko Heal Karne Ke 111 Mantra (hindi)
Total price: 419,00 ₹
Buy the selected items together

Product description

About the Author

लुइस एल. हे, जो अंतरराष्ट्रीय बेस्टसैलर पुस्तक ‘यू कैन हील योर लाइफ’ की लेखिका हैं। वे एक सैद्धांतिक वक्ता और अध्यापिका भी हैं, जिनकी पुस्तकों की 50 मिलियन से अधिक प्रतियाँ दुनिया भर में बिक चुकी हैं। 25 से भी अधिक वर्षों से वे दुनिया भर में लोगों की व्यक्तिगत विकास और आत्म-उपचार के लिए अपनी संपूर्ण सृजनात्मक शक्ति क्षमता की खोज करने और उसे कार्यान्वित करने में सहायता करती आ रही हैं। उन्होंने ओपरा विनफ्रें के टीवी शो एवं अमेरिका समेत कई अन्य देशों के टीवी व रेडियो कार्यक्रमों पर भी अपनी प्रस्तुति दी। शेरल रिचर्डसन न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार बेस्टसैलिंग श्रेणी की पुस्तकों—‘टेक टाइम फॉर योर लाइफ’, ‘लाइफ मेकओवर’, ‘द अनमिस्टेकेबल टच ऑफ गे्रस’, ‘स्टैंडअप फॉर योर लाइफ’ और ‘द आर्ट ऑफ एक्स्ट्रीम सेल्फकेयर’ की लेखिका हैं।.

From the Publisher

Sarvottam Jeevan Ka Nirman Karen by Louise L. Hay

Sarvottam Jeevan Ka Nirman Karen by Louise L. Hay

सफल और सुखी जीवन जीने की एक प्रैक्टिकल हैंडबुक।

  • यदि कार्यस्थल पर किसी व्यक्ति के साथ आपकी तनातनी चल रही है तो तुम उस स्थिति को बदलने के लिए अपने दिमाग का इस्तेमाल करो।
  • जब भी उनका खयाल आपके दिमाग में आए, विशेष तौर पर उस व्यक्ति का, जिसके साथ आपको समस्या है, तो उस व्यक्ति की कमियों की बजाय खूबियों पर अपना ध्यान केंद्रित करें।
  • आपको आश्चर्य होगा कि किस प्रकार से आपके संबंधों में सुधार आता है।
  • विश्वविख्यात सेल्फ हेल्प एक्सपर्ट लुइस एल. हे ने अपने अनुभवों से यह बताया है कि जीवन में सकारात्मकता ही सफलता की कुंजी है।
  • इस पुस्तक में उन्होंने बहुत व्यावहारिक सूत्र दिए हैं, जिनका अनुसरण कर हम एक सर्वश्रेष्ठ जीवन बिता सकते हैं। सफल और सुखी जीवन जीने की एक प्रैक्टिकल हैंडबुक।

===============================================================================================================

अनुक्रम

हे हाउस इंडिया

यह पुस्तक क्यों

लेखकीय परिचय

  1. हर ऌफोन कॉल का उत्तर दें, हर पत्र का जवाबी लिफाफा तैयार रखें!
  2. एक अनूठे जीवन के रचयिता बनें!
  3. दिन की शुरुआत करे जीवन का निर्धारण!
  4. जागरूक रहना जरूरी
  5. आदत को विराम न दें—इसे समाप्त करें!
  6. ज्ञान का सौंदर्य
  7. समापन की ओर
  8. सकारात्मक सोचें, रचनात्मक सोचें और खुश रहें

Enter your mobile number or email address below and we'll send you a link to download the free Kindle App. Then you can start reading Kindle books on your smartphone, tablet, or computer - no Kindle device required.

  • Apple
    Apple
  • Android
    Android
  • Windows Phone
    Windows Phone

To get the free app, enter mobile phone number.

kcpAppSendButton


Product details

  • Item Weight : 110 g
  • Paperback : 152 pages
  • ISBN-10 : 9789350487938
  • ISBN-13 : 978-9350487938
  • Dimensions : 20 x 14 x 4 cm
  • Reading level : 18 and up
  • Publisher : Prabhat Prakashan - Delhi; 1st edition (1 January 2017)
  • Language: : Hindi
  • ASIN : 9350487934
  • Customer Reviews:
    4.1 out of 5 stars 12 ratings

Customer reviews

4.1 out of 5 stars
4.1 out of 5
12 global ratings
5 star
51%
4 star
36%
3 star 0% (0%) 0%
2 star 0% (0%) 0%
1 star
13%
How are ratings calculated?

Review this product

Share your thoughts with other customers

Top reviews from India

Reviewed in India on 16 January 2018
Verified Purchase
One person found this helpful
Comment Report abuse
Reviewed in India on 4 February 2019
Verified Purchase
Reviewed in India on 23 October 2020
Verified Purchase
Reviewed in India on 7 August 2016
Verified Purchase
Reviewed in India on 19 October 2015
Verified Purchase