Customer Review

Reviewed in India on 1 February 2020
शिव त्रयी के मुकाबले कहिं भी नहिं टिकती है रामचंद्र श्रींखला । रामचंद्र की कहानी से इतनी ज्यादा छेड़छाड़ किसी भी भारतिय को पसंद नहिं आएगी। ये दिखना की दसरथ राम जी के जन्म से खुश नहीं थे , ये हद हो गई । विश्वामित्र को तो पूरा एकता कपूर के सिरियल का विलेन बना दिया है । अमीष जी ने रामचंद्र श्रींखला से न्याय नहीं किया है। शिव त्रयी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे । निराशा हाथ लगी इस बार ।
0Comment Report abuse Permalink

Product Details

4.5 out of 5 stars
4.5 out of 5
525 global ratings